Maye ni song Ranjit Bawa Hindi & English, Translation

Maye ni translation hindi & english ranjit bawa , make sure you will like it and spread.

Song Lyrics –

Song – Maye Ni
Singer : Ranjit Bawa
Lyrics & Composer : Bir Singh
Music : Gurmohh


Maye ni song in Hindi

विदेश में बैठकर कॉफी पीने के लिए
मुझे आपका आधा रिप्ड फ़िल्टर याद नहीं है
मुझे आपका आधा रिप्ड फ़िल्टर याद नहीं है

सिर मुझ पर रहम कर गया और फिर चला गया
सिर मुझ पर रहम कर गया और फिर चला गया
आशीर्वाद देने वाला हाथ याद नहीं आता
आशीर्वाद देने वाला हाथ याद नहीं आता
मुझे आपका आधा रिप्ड फ़िल्टर याद नहीं है

कोई जबरन खाना खिलाता है और कहता है नहीं
अपने दिल की सामग्री खाओ, बेटों
चंद्री नज़र कई भागीदारों के पुत्र
सुंदर महसूस करते हुए घर मत जाओ

मेरी नज़र उतारने के लिए
मेरी नज़र उतारने के लिए
टीका किसने लगाया
मुझे आज भी याद नहीं है कि आधी-अधूरी लकड़ी ने मुझे भेड़ियों से बचाया था।

मैं जब भी गिरता हूँ, कहीं गिर जाता हूँ
तुम उसे उठाकर कहते हो, “देखो, चींटी का आटा छलक गया है।”

मैं अभी भी खाता हूं और जगहों पर गिरता हूं
वह कहा गयी? वह अपने बेटे के बारे में भूल गई
जीवन के टेढ़े-मेढ़े रास्तों पर गिरना
आपने जो हिम्मत दी है वो बढ़ी नहीं है

मुझे आपका आधा रिप्ड फ़िल्टर याद नहीं है
तेरी फटकार से थक गया हूँ, सोचता हूँ कब जवान हो जाऊँगा
फिर बात हाथ से निकल गई
तेरी डांट में कोई प्यार नहीं छुपा है मां

आज मुझे तुम्हारी डांट मिली
कुछ जगहों पर पुल थे
कोई उसे अपने लालसा बेटे से बात करने के लिए कहो

गरीबों को फटकारने का कोई मतलब नहीं है
गरीबों को फटकारने का कोई मतलब नहीं है
मुझे आपका आधा रिप्ड फ़िल्टर याद नहीं है
मुझे आपका आधा रिप्ड फ़िल्टर याद नहीं है
मुझे आधा रिप्ड फ़िल्टर याद नहीं है


Maye ni song video


Maye ni song in english

To drink coffee while sitting abroad
I don’t remember your half-ripped filter
I don’t remember your half-ripped filter

The head became a mercy on me and then went away
The head became a mercy on me and then went away
You don’t remember the hand that gives blessings

You don’t remember the hand that gives blessings
I don’t remember your half-ripped filter

Someone forcibly feeds and says no
Eat to your heart’s content, sons
Chandri Nazar A sons of many partners
Don’t go home feeling pretty

To take my eyes off
To take my eyes off
Who planted the vaccine
Even today, I don’t remember the

half-timbered filter that saved me from the wolves.
Whenever I fall, I fall somewhere
You pick it up and say, “Look, the ant’s flour has spilled.”

I still eat and fall in places
Where did she go? She forgot about her son
To fall on the twisted paths of life
The courage you have given is not raised
I don’t remember your half-ripped filter

Tired of your rebuke, I wonder when I will be young
Then things got out of hand
There is no love hidden in your rebuke, mother

Today I found your scolding
There were bridges in some places
Someone tell him to talk to his longing son
There is no point in reprimanding the poor

There is no point in reprimanding the poor
I don’t remember your half-ripped filter
I don’t remember your half-ripped filter
I don’t remember the half-ripped filter

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!